एनर्जी ड्रिंक Red Bull में ‘साँड़ का वीर्य’ होता है?

क्या आप एनर्जी ड्रिंक रेड बुल पीते हैं या कभी पी है या पीने की सोच रह हैं? अगर हाँ, तो आज का सत्यखोजी तो आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए, क्योंकि सोशल मीडिया पर एक पोस्ट ने लोगों को हिला रखा है जिसमें दावा किया गया है कि रेड बुल और इसके जैसी अन्य एनर्जी ड्रिंक्स में ‘साँड़ या बैल का स्पर्म/सीमन मिलाया जाता है’। देखें,

इस पोस्ट की मानें तो किसी भी व्यक्ति को रेड बुल एनर्जी ड्रिंक नहीं पीनी चाहिए क्योंकि इसमें साँड़/बैल का सीमन मिलाया जाता है। अब जो नहीं पीते वे तो इसे देखने के बाद पीने की सोचेंगे भी नहीं, लेकिन जो पीते रहते हैं उनकी क्या हालत हुई होगी इसका अंदाज़ा आप पोस्ट की शेयरिंग संख्या देखकर लगा सकते हैं। 10 लाख 93 हज़ार से भी ज़्यादा।

पोस्ट को तकनीकी रूप से सही साबित करने के लिए ड्रिंक में मिलाई जानी वाली कई चीज़ों में से एक टॉरिन पर विशेष फ़ोकस किया गया है और एक तस्वीर भी डाली गई है जो देखने में किसी वेबसाइट पर पूछे गए सवाल का जवाब लगती है। इसमें कहा गया है कि इन ड्रिंक्स में बुल स्पर्म मिलाया जाता है।

लेकिन यह बातें निराधार हैं। रेड बुल के अलावा किसी भी एनर्जी ड्रिंक में बैल/साँड़ तो क्या किसी भी जानवर का सीमन नहीं मिलाया जाता। यह पोस्ट भी सोशल मीडिया के झूठ की एक मिसाल भर है। हम एक-एक कर सभी बातें आपको बताते हैं।

सबसे पहले तो बुल ब्रीडिंग की तस्वीर से परेशान ना हों। ऐसा वीर्यारोपण के ज़रिए प्रजनन की प्रक्रिया को अंजाम देने के लिए किया जाता है। इसके लिए बुल के सीमन की क्वॉलिटी और स्पर्म की संख्या की जाँच की जाती है। खेती और पशुपालन से जुड़े लोगों के लिए यह सामान्य जानकारी है। फिर भी, आपकी सुविधा के लिए हम यहाँ लिंक दे रहे हैं।

आपने ऐसी ख़बर ज़रूर देखी-सुनी होंगी कि किसी तंदरुस्त भैंसे का स्पर्म लाखों रुपये में बेचा गया।

दरअसल टॉरिन घटक का नाम लैटिन शब्द Taurus से पड़ा है जिसका मतलब होता है साँड़ या बैल। इसी का फ़ायदा उठाकर Taurine को इस तरह दिखाया गया जैसे इसमें जानवर का स्पर्म शामिल हो। लेकिन सच यह है कि टॉरिन बिल्कुल अलग अवयव है। यह उन घटकों में से एक है जिनके मिश्रण से बुल का सीमन यानी वीर्य बनता है। आप ऐसे समझें कि घर में बनने वाली दाल में तेल, प्याज़, हरी मिर्च, हल्दी, नमक आदि होते हैं, लेकिन तेल, प्याज़, हरी मिर्च, हल्दी, नमक आदि सब अलग-अलग चीज़ें हैं। उनका इस्तेमाल कुछ और बनने या बनाने में भी हो सकता है।

जिस Wiki Answers के नाम से झूठ फैलाया जा रहा है, आप उसी में यह सवाल सर्च करके देखें कि क्या टॉरिन में बुल स्पर्म मिलाया जाता है, तो यह जवाब मिलेगा।

इसमें लिखा है, ‘टॉरिन एक ऑर्गेनिक ऐसिड है जो कि पित्त का एक प्रमुख घटक है और कई जानवरों में पाया जाता है। लेकिन स्पर्म कई चीजों से मिलकर बनता है जिनमें टॉरिन भी शामिल है।’ आप यहाँ क्लिक करके यह जवाब देख सकते हैं।

अब इसी साइट से रेड बुल में बुल स्पर्म या यूरीन होने के सवाल का जवाब देख लीजिए।

साइट पर जाने के लिए तस्वीर पर क्लिक करें।

यहाँ एक सवाल के जवाब में बताया गया है कि रेड बुल में बुल यूरीन नहीं मिलाया जाता।

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि कैसे ड्रिंक की केन पर दी गई जानकारी में Taurine लिखे होने की वजह से लोगों को भ्रमित किया गया। उसी ग़लतफ़हमी को Wiki Answers ने अपने इस जवाब से दूर किया है। देखें,

पढ़ें।

साफ़ है कि रेड बुल में बुल का सीमन या स्पर्म नहीं मिलाया जाता। इस मामले पर हमें रेड बुल का पक्ष भी रखना चाहिए। देखें कि कंपनी अपनी वेबसाइट पर इस अफ़वाह के बारे में क्या कहती है,

कंपनी का जवाब देखने के लिए यहाँ क्लिक करें।

कंपनी कहती है, ‘कई लोगों का कहना है कि यह (बुल स्पर्म) दुनिया के सबसे मज़बूत और ताक़तवर बुल्स के नाज़ुक हिस्से से लिया जाता है, लेकिन सच यह है कि रेड बुल ड्रिंक में शामिल किया गया टॉरिन फ़ार्मासूटिकल (औषधीय) कंपनियों द्वारा कृत्रिम रूप से बनाया जाता है जोकि अच्छे क्वॉलिटी स्टैंडर्ड की गारंटी देता है…टॉरिन जानवरों से नहीं निकाला जाता।’

तो इस पूरे सच को संक्षिप्त में समझाएँ तो यह कहना सही होगा कि रेड बुल एनर्जी ड्रिंक का नाम टॉरिन – जोकि Taurus नामक एक लेटिन शब्द से बना है और जिसका मतलब साँड़ या बैल है – नामक घटक से रखा गया है, लेकिन यह इसमें वीर्य के रूप में शामिल नहीं है। लिहाज़ा कोई वहम ना पालें और निश्चिंत होकर रेड बुल पीएँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *