कैशलेस ट्रांजेक्शन पर सवाल: पेटीएम करने वाले सावधान,पूरा अकाउंट हो सकता है खाली! पढ़िए-कैसे बचें ?

पेटीएम का इस्तेमाल करने वाले सावधान हो जाएं। पेटीएम का सिस्टम फुलप्रफ नहीं है। इसके इस्तेमाल से आप अपने अकाउंट का पूरा पैसा गंवा सकते हैं। ये बात साबित भी हो चुकी है। मामला राजधानी दिल्ली का ही है। जहां एक दुकानदार के लिए कैशलैस ट्रांजेक्शन करना मुसीबतभरा साबित हुआ।

सरकार ने सपना देखा था देश को अमेरिका की तर्ज पर कैशलैस बनाने का, जहां सारा लेनदेन प्लास्टिक मनी से हो जाए, कैश के बजाए लोग महज़ कार्ड के इस्तेमाल से लेन-देन निपटा सकें। लेकिन अपराधियों ने सरकार के इस सपने में सेंध लगा दी और पेटीएम के इस्तेमाल को ही सवालों के घेरे में ला खड़ा किया। हालांकि हमारा मकसद आपको डराने का नहीं बल्कि सावधान करने का है। हम आपको पेटीएम के इस्तेमाल की मनाही नहीं कर रहे बल्कि आपको सजग कर रहे हैं कि आप थोड़े सावधन रहकर खुद को धोखेबाजी से बचा सकते हैं। आपको कैसे बचना है, ये भी आप खबर के तीसरे पन्ने पर पढ़ सकते हैं। हालांकि अभी पेटीएम को भी अपनी प्रणाली में सुधार करने की सख्त जरुरत है। ताकि लोग धोखे से बच सकें और उनका विश्वास भी कंपनी पर बना रहे।

तो चलिए सबसे पहले आपको दिल्ली की वो वारदात दिखाते हैं जहां पेटीएम का इस्तेमाल एक दुकानदार को भारी पड़ गया-

भले ही सरकार नोटबंदी के बाद कैशलैस ट्रांजेक्शन प्रणाली पर जोर दे रही हो। लेकिन ये प्रणाली शुरू होने से पहले ही सवालों के घेरे में पहुंच गई है। नोटबंदी पर सरकार का समर्थन करने के चक्कर में दिल्ली का एक दुकानदार ये भूल गया कि पेटीएम इस्तेमाल करने के साथ बहुत ज्यादा सावधानी बरतनी होती हैं। बैग बेचने वाले इस दुकानदार ने लोगों से जी भरके पेटीएम से भुगतान लिया लेकिन एक चूक से पेटीएम की पेटी से सारा माल गायब हो गया। और तो और उसके पेटीएम अकाउंट से पैसा कहां गया ये भी पता नहीं चल रहा। कंपनी चक्कर पर चक्कर लगवा रही है।

दुकानदार का नाम लोकेश जैन है। इन्हें पेटीएम का इस्तेमाल उस वक्त महंगा पड़ गया जब लोकेश पेटीएम से अपने बिजली के बिल का भुगतान कर रहे थे। इसी दौरान उनसे ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) मांगा गया। ओटीपी देते ही उनके पेटीएम खाते से 17,560 रुपये गायब हो गए। पुलिस जांच कर रही है।

नोटबंदी के बाद से लोकेश पेटीएम इस्तेमाल कर रहे हैं। उनके पेटीएम वॉलेट में 17,580 रुपये आ चुके थे। बृहस्पतिवार को लोकेश अपने पेटीएम वॉलेट से 10,460 रुपये के बिजली के बिल का भुगतान कर रहे थे। जिसके बाद पूरा अकाउंट ही खाली हो गया।

लोकेश ने कंपनी से संपर्क करने का प्रयास किया तो उन्हें मेल करने को कहा गया।फिलहाल लोकेश ने शहादरा थाने में मामले की शिकायत दर्ज करा दी है। और अब पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *