तिरुपति मंदिर का ट्रस्टी 170 करोड़ के नोट और 130 किलो सोने के साथ गिरफ्तार

चेन्नई। मंदिरों को आस्था का प्रतीक माना जाता है और मंदिरों में मोह और लोभ त्यागने की बात कही जाती है। उसी मंदिर का एक सदस्य अपने दोस्तों के साथ करोड़ों रुपए के नए नोट और लगभग 130 किलो सोने के साथ गिरफ्तार हुआ है। जांच टीम ने शेखर रेड्डी नाम के एक व्यक्ति, कुछ कारोबारियों और एक शीर्ष अधिकारी के पास से करोड़ों की नकदी के अलावा करीब 130 किग्रा सोना भी बरामद किया है। शेखर रेड्डी तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम बोर्ड का सदस्य बताया जा रहा है।


खबर के मुताबिक आयकर विभाग ने छापेमारी के दौरान नई और पुरानी करेंसी में 170 करोड़ की नकदी और 130 किलोग्राम सोना जब्त किया है। विभाग ने छापे मारी की कार्रवाई तीन जगह की थी। आयकर विभाग ने बृहस्पतिवार छापेमारी की थी हालांकि छापे के दौरान कुल जब्ती की जानकारी शुक्रवार को दी गई। बताया गया कि तीन अभियुक्तों में से पहली कार्रवाई तिरुपति तिरुमाला देवस्थानम बोर्ड मेंमर शेखर रेड्डी के घर की गई। 

शेखर को आंध्र, तमिलनाडु और तेलंगाना में राजनीतिक लोगों और अधिकारियों का काफी करीबी माना जाता है। रैकेट में शामिल दो अन्य लोगों श्रीनिवास रेड्डी और प्रेम के यहां भी छापेमारी की गई। जांच में पाया गया है कि ये नोट एक्सचेंज रैकेट में शामिल थे। बताया गया कि छापे मारी के दौरान आरोपियों के घर और दुकानों से ये नकदी और सोना बरामद हुआ है। 

आंध्र प्रदेश सरकार के सूत्रों ने जानकारी दी कि अगर रैकेट में शेखर रेड्डी की संलिप्तता सामने आती है तो उन्हें तिरुपति मंदिर बोर्ड से निकाल दिया जाएगा। इस मामले की शुरूआती जांच में यह बात सामने आई थी कि छापे मारी के 90 करोड़ कैश जब्त किए गए। इन नोटों में 70 करोड़ रुपए के नए नोट हैं। साथ में 100 किलो सोना भी बरामद किया गया। हालांकि अब आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *