नहीं दिए एक करोड़ के नए नोट तो बसपा सुप्रीमो ने काट दिया टिकट

बसपा सुप्रीमो मायावती पर एक बार फिर एक करोड़ रूपए न देने पर टिकट काटने का आरोप लगा है। यह आरोप शाहजहांपुर की ददरौल विधानसभा से बसपा नेता मानवेंद्र सिंह ने लगाया है। उन्होंने कहा कि मायावती और नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने एक करोड़ नई करेंसी मांगी थी। नई करेंसी में एक करोड़ न देने पर उनका टिकट काटकर दूसरे के हाथ बेच दिया गया।

तीन सीटों पर नए प्रत्याशी घोषित
गुरुवार को बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने तिलहर के एलपीजेपी इंटर कॉलेज के मैदान में जनसभा को संबोधित किया। इसी मंच से सिद्दीकी ने तिलहर, ददरौल और कटरा विधानसभा से नए प्रत्याशियों की घोषणा कर दी। उन्होंने ददरौल विधानसभा से मानवेंद्र सिंह की जगह रिजवान खां को प्रत्याशी घोषित किया है। वहीं कटरा विधानसभा से राजीव कश्यप और तिलहर विधानसभा से पूर्वमंत्री अवधेश वर्मा के टिकट मिला।


मंच पर नसीमुद्दीन सिद्दीकी व अन्य बसपा नेता 
पोस्टर जलाए, बसपा छोड़ी
एक तरफ जहां नसीमुद्दीन सिद्दीकी ददरौल विधानसभा से मानवेंद्र सिंह का टिकट काट नए प्रत्याशी की घोषणा कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ पूर्व प्रत्याशी मानवेंद्र सिंह बसपा छोड़कर अपने समर्थकों संग उनके खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। इस दौरान मानवेंद्र सिंह ने बसपा के पोस्टरों को भी आग के हवाले कर दिया और मायावती के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 


सभा स्थल पर जलाए पोस्टर
कांग्रेस छोड़ आए थे बसपा में 
बता दें कि मानवेंद्र सिंह कांग्रेस छोड़कर बसपा में शामिल हुए थे। डेढ़ वर्ष पहले खुद नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने उन्हें ददरौल से बसपा प्रत्याशी घोषित किया था। लेकिन आज उन्हीं नसीमुद्दीन ने ही उनका टिकट काट दिया। फिलहाल मानवेंद्र सिंह ने बसपा छोड़ने की घोषणा कर दी है। अब वो दूसरी पार्टी में जाने की तैयारी कर रहे हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *