251 रु. में फोन का वादा करने वाली रिंगिंग बेल्स के MD का इस्तीफा, नई कंपनी बनाई

महज 251 रुपए में स्‍मार्टफोन देने का वादा करने वाले मोहित गोयल ने रिंगिंग बेल्‍स कंपनी से पल्ला झाड़ लिया है। उन्होंने कंपनी के एमडी की पोस्ट से  इस्‍तीफा दे दि‍या है। इससे पहले रिंगिंग बेल्‍स के अशोक चड्ढा भी कंपनी छोड़ चुके हैं। दोनों ने मिलकर अब एक नई एमडीएम इलेक्‍ट्रॉनि‍क्‍स कंपनी खड़ी कर ली है। यह कंपनी 7 दि‍संबर को ही बनाई गई है। 
– हजारों कस्‍टमर्स और सैकड़ों डि‍स्‍ट्रीब्‍यूटर्स का हि‍साब अभी लटका हुआ है और मोहि‍त ने फोन उठाना बंद कर दि‍या है।

भाई पर डाली जि‍म्‍मेदारी

– रिंगिंग बेल्‍स की ओर से दी गई सूचना के मुताबि‍क, अब कंपनी का दारोमदार मोहि‍त के छोटे भाई अनमोल पर है और वो ही अब सारी जि‍म्‍मेदारि‍यां नि‍भाएंगे।

– हालांकि‍ कंपनी ने यह क्‍लियर नहीं कि‍या कि‍ जि‍न ड्रि‍स्‍ट्रीब्‍यूटरों ने फ्रीडम 251 फोन के लि‍ए एडवांस ले लि‍या था, उन्‍हें अब क्‍या करना है।

 

7 करोड़ लोगों ने कराया था रजि‍स्‍ट्रेशन

– फरवरी 2016 में रिंगिंग बेल्‍स ने 251 रुपए में स्‍मार्टफोन देने का वादा कि‍या था। कंपनी ने देश के सभी बड़े अखबारों में इसका पूरे-पूरे पेज में एड दि‍या।

– बुकिं‍ग शुरू होते ही कंपनी की वेबसाइट पर इतनी भीड़ उमड़ पड़ी कि उनका सर्वर ही क्रैश हो गया।

– इसके बावजूद 7 करोड़ लोगों ने इसके लि‍ए रजिस्‍ट्रेशन कराया और 30000 लोगों ने एडवांस पेमेंट की।

 

दबाव पड़ने पर पैसे लौटाने शुरू किए 

– कंपनी के पास फोन बनाने की कोई सुवि‍धा नहीं थी। इसके चलते जब उस पर चारों ओर से दबाव पड़ने लगा तो लोगों के पैसे लौटाने शुरू कर दि‍ए और कहा कि‍ अब कंपनी कैश ऑन डि‍लीवरी ही लेगी।

– इनमें से कि‍तनों की पेमेंट वापस हुआ, इसका अभी तक पता नहीं चल सका है।

 

मुरली मनोहर जोशी के हाथों हुआ था लांच

– कंपनी ने अपने पीआर में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। दि‍ल्‍ली में ऑर्गेनाइज एक प्रोग्राम में गोयल ने इस फोन को लॉन्च कि‍या।

– प्रोग्राम में चीफ गेस्ट के तौर पर बीजेपी के सीनियर नेता मुरली मनोहर जोशी शामि‍ल हुए थे। इस तरह से कंपनी ने लोगों का भरोसा जीतने की कोशि‍श थी।

– लॉन्च के दौरान फोन की डमी के साथ मुरली मनोहर जोशी, मोहि‍त गोयल और उनकी पत्‍नी धारणा मौजूद थीं।

 

पत्‍नी भी थी कंपनी में डायरेक्‍टर

– पूरे देश में सैकड़ों लोगों ने इसकी डीलरशि‍प ले ली थी। उन्‍होंने भी कंपनी को पैसा दि‍या। इसके अलावा रिंगिंग बेल्‍स का पीआर देखने वाली कंपनी का भी इस पर बकाया है।

– नोएडा के सेक्‍टर 62 में मौजूद कंपनी का दफ्तर पि‍छले दो हफ्ते से बंद पड़ा है।

– इन सबको लटका छोड़कर शामली के मोहि‍त गोयल पत्‍नी सहि‍त कंपनी को नमस्‍ते कर चल दि‍ए। उनकी पत्‍नी धारणा रिंगिंग बेल्‍स में डायरेक्‍टर थीं।

 

कंपनी का दावा- 70000 फोन बेचे

– कंपनी का दावा है कि‍ उसने ताइवान से इम्पोर्ट कर इस तरह के करीब 70000 फोन बेचे हैं।

– हालांकि‍ यह उन्‍होंने अलग अलग ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म पर कैश ऑन डि‍लीवरी मोड के तहत बेचे हैं।

– यह क्‍लियर नहीं है कि‍ कंपनी लोगों को देने के लि‍ए और फोन मंगा रही है या नहीं। जि‍न डीलरों को बढ़ि‍या मुनाफे का वादा कि‍या गया था, वो भी अभी इंतजार कर रहे हैं।

– एक डि‍स्‍ट्रीब्‍यूटर ने बताया कि‍ उसने फोन के लि‍ए एडवांस दे दि‍या था, मगर अभी तक उसे कंपनी की ओर से कोई जवाब नहीं मि‍ला है कि‍ अब आगे क्‍या करना है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *